IQNA

14:30 - October 08, 2017
समाचार आईडी: 3471884
अंतर्राष्ट्रीय समूह: अबासी रौज़े के अल-अमीद इंटरनेशनल सेंटर फॉर रिसर्च एंड स्टडीज के साथ संबंधित "दारुरसूले आज़म" ने कर्बला में पहला अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन सीरते नबवी "इंसानी दृष्ट कोण से सीरते नबवी, क़ानून इलाही" शीर्षक के नाम से होने की घोषणा की।

कर्बला "पैगंबर की सीरत" पर पहले सम्मेलन का मेज़बान होगा

अंतर्राष्ट्रीय कुरान समाचार ऐजेंसी(IQNA) के अनुसार कफ़ील वर्ल्ड वेबसाइट के हवाले से, पहला अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन सीरते नबवी ""इंसानी दृष्ट कोण से सीरते नबवी, क़ानून इलाही" के शीर्षक के साथ अबासी रौज़े के अल-अमीद इंटरनेशनल सेंटर फॉर रिसर्च एंड स्टडीज के साथ संबंधित दारुरसूले आज़म के प्रयासों से 17 18 अक्टूबर 2017 को आयोजित किया जाएगा।

यह सम्मेलन आस्ताने अब्बासी की वैज्ञानिक बैठकों के क्रम में है, जो समकालीन चिंताओं और संकटों के अनुरूप है आयोजन किया जाऐगा, और इसकी स्थापना का उद्देश्य सीरते नबवी के अध्ययन की प्रवृत्ति में शोधकर्ताओं का ध्यान और तवज्जोह खीचना है

समकालीन इस्लामी मुद्दों की विशेषताओं को परिभाषित करने और कुरानिक मार्गदर्शन और फैसलों के अनुसार उन्हें निर्देशित करने में सीरते नबवी के बौद्धिक और सामाजिक आंकड़ों का इस्तेमाल इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का एक और लक्ष्य है।

इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का मुख्य स्तंभ पांच मुख्य क्षेत्रों में हैं:

1। कुरानिक और ऐतेक़ादी अध्ययनों का मूल:

कुरान के मार्गदर्शन में सीरते नबवी

अहलेबैत(अ.) के शब्दों में सीरते नबवी

मुसलमानों की बौद्धिक व ऐतेक़ादी व्यवस्था में रवायाते नबवी

अन्य स्वर्गीय धर्मों में पैगंबर मुहम्मद (स.व.)

2। ऐतिहासिक अध्ययन के अक्ष:

ऐतिहासिक किताबों में सीरते नबवी

ओरिएंटल अध्ययन में सीरते नबवी

भविष्यवाणी (महाकाव्य और घटनाओं) पुस्तकों में नुबूव्वत

सीरते नबवी की पांडुलिपियां

3। भाषा विज्ञान और साहित्य अध्ययन का केंद्र:

भाषिक संसाधनों और साहित्य में सीरते नबवी

विभिन्न साहित्यिक शैलियों में पैगंबर की छवि

भाषाई और साहित्यिक दृष्टिकोणों में हदीसे नबवी

4। शैक्षिक और सामाजिक अध्ययन अक्ष:

सीरते नबवी में शैक्षिक और नैतिक शिक्षाएं

पाठ्यचर्या में सीरते नबवी

सीरते नबवी के बारे में अन्य विषय

5। राजनीतिक और आर्थिक अध्ययन के अक्ष

इस सम्मेलन में भाग लेने की शर्तों में यह है कि लेख अरबी या अंग्रेजी में हों, और प्रतिभागियों को अपने लेख का ख़ुलासा सम्मेलन के सचिवालय को 15 जनवरी, 2018 तक भेजना होगा।

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि इस क्षेत्र के शोधकर्ता और विशेषज्ञ अपने लेख सम्मेलन के सचिवालय को ई-मेल द्वारा प्रस्तुत कर सकते हैं: daralrasul@alameedcenter.iq

3650231

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :