IQNA

17:10 - October 23, 2018
समाचार आईडी: 3473002
अंतर्राष्ट्रीय समूह-करबला में अयतुल्ला सिस्तानी के प्रतिनिधि ने दाइश की फिर से वापसी के संदर्भ में चेतावनी दी और इराक के उत्तरी और पश्चिमी प्रांतों में क्लियरिक्स और जनजातियों से आग्रह किया कि इस आतंकवादी समूह को वापस ना लौटने दें।

IQNA की रिपोर्ट Shafaq समाचार के हवाले से, शेख अब्दुल महदी Karbalai, कर्बला में अयातुल्ला सिस्तानी के प्रतिनिधि ने मोसुल, किरकुक, सलाहुद्दीन और अंबार के मोलवियों और जनजातियों के नेताओं के एक स्वागत के दौरान कहाःदाइश सोच के ऐतेबार से चला गया है, हमें भी जरूरत है कि वैचारिक और अक़ीदती विचारधाराओं में हरकत करें और यह जिम्मेदारी धार्मिक क्लियरिक्स पर है।
अब्दुल महदी Karbala'i ने कहा: उलमा को अपने से फिर समाज में सुधार शुरू कर देना चाहिए।
उन्होंने शांतिपूर्ण सहअस्तित्व और अहिंसा की आवश्यकता पर बल दिया और कहा कि अयतोल्ला सिस्तानी अपने उपदेशों में हमेशा इस पर जोर देते हैं।
शेख़ करबलाई ने आगगे क्लर्किक्स और जनजातियों से अनुरोध किया ता कि सरकार पर डाऐरेक्ट या संसद सदस्यों के प्रत्यक्ष दबाव के माध्यम से क्षतिग्रस्त क्षेत्रों के पुनर्निर्माण और बेहतर सेवाओं की मांग करें।
उन्होंने अंत में यह कहकर कि आईएसआईएस में लौटने का कोई रास्ता नहीं दें, आभासी नेटवर्क के उचित उपयोग की आवश्यकता पर और जो भी उसमें पेश होता है  उसके खिलाफ चेतावनी दी।
3758133
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :