IQNA

17:35 - April 23, 2019
समाचार आईडी: 3473522
अंतर्राष्ट्रीय समूह- श्रीलंका की पुलिस ने कहा कि अब तक 40 लोगों को दो दिन पहले कई चर्चों और होटलों को निशाना बनाऐ गऐ बम विस्फोट के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

IQNA की रिपोर्ट Aikido, arabic.rt.com के अनुसार, ईसाई ईस्टर के समय रविवार को श्रीलंका में 4 होटलों और 3 चर्चों को निशाना बनाने वाले विस्फोटों की एक श्रृंखला के बाद, देश की पुलिस ने घोषणा की कि 40 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गयया है।
 आज (23 अप्रेल)को श्रीलंकाई अधिकारियों के अनुसार नवीनतम घोषित समाचार में: विस्फोटों के पीड़ितों की संख्या 290 से बढ़कर 310 हो गई।
पूरे श्रीलंका के लोगों ने आज सुबह ईस्टर रविवार के आतंकवादी पीड़ितों जिनकी संख्या 300 से अधिक लोगों की होगगई है के साथ सहानुभूति में तीन मिनट के लिए मौन रखा और सरकार ने भी आज एक सार्वजनिक शोक की घोषणा की, जिसके अनुसार सभी राज्य संस्थानों का बैनर आधा उठा हुआ था और इसके देश के सभी रेडियो और टेलीविजन प्रसारण भी उदास संगीत बजा रहे हैं।
श्रीलंका में रविवार को हुए खूनी विस्फोटों ने अब तक घृणा और अंतरराष्ट्रीय निंदा को हवा दी है, जैसा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने इसे "आपराधिक और घृणित" कार्ववाई कहा और इस आतंकवादी कार्ववाई के अपराधियों को न्याय में खड़ा करने का आह्वान किया।
इन कार्वाइयों के बाद, कई देशों ने अपने नागरिकों से अस्थायी रूप से श्रीलंका की यात्रा करने से परहेज़ करने का आग्रह किया है। जिसमें, रूसी पर्यटन एजेंसी ने आज एक बयान में अपने नागरिकों से इस देश की अपने प्राकृतिक हालात पर लौटने तक इस देश की यात्रा करने से परहेज़ करने का आग्रह किया है।
इसी तरह चीन ने भी एक उच्च सुरक्षा जोखिम की निस्बत चेतावनी दी, अपने नागरिकों को श्रीलंका की यात्रा ना करने का आह्वान किया।
कहा जाता है कि श्रीलंका की राजधानी कोलंबो और उसके कुछ शहरों में 3 चर्चों और 4 लक्जरी होटलों में धमाकों की श्रृंखला देखी गई, जिसमें 300 से अधिक लोग मारे गए और 500 घायल हो गए।
 3805827
 
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :