IQNA

17:40 - August 09, 2019
समाचार आईडी: 3473862
अंतर्राष्ट्रीय समूहः यूरोप में फिलिस्तीनी राजनीतिक समिति यूरोपीय मस्जिद इमामों के साथ परामर्श के बाद एलान किया कि यूरोप में जुमे की नमाज़ के ख़ुत्बे "फिलिस्तीनी और बैतुल मोकद्दस क़ैदी" पर केंद्रित रहेंग़े।

अंतर्राष्ट्रीय कुरआन समाचार एजेंसी (IQNA) मआन समाचार एजेंसी के अनुसार बताया कि ने घोषणा किया कि परामर्श के बाद यह तैय हुआ कि जुमे और ईदुल -अज़्हा के के खुतबे में "कैदीयों की आज़ादी और अल-कुद्स एक पवित्र सिद्धांत है" के के लक्ष्य से आयोजित किया जाए।
फिलिस्तीनी राजनीतिक समिति के अध्यक्ष अबू बक्रिम फरहूद ने कहा कि "इस प्रस्ताव का स्वागत पूरे यूरोप में इस्लामिक केंद्रों और मस्जिदों ने किया।
उन्होंने कहा: कि "ख़ुतबे कब्जे वाले शासन की जेलों में फिलिस्तीनी कैदियों की पीड़ा और शासन के क्रूर व्यवहार के खिलाफ उनकी दृढ़ता के मुद्दे को संबोधित करते हैं और यूरोप में मानवाधिकार संगठनों को अपने धर्मोपदेशों में जाने के लिए आमंत्रित करते हैं।
इन ख़ुतबे अरबी में पढ़े जाने चाहिए और आम यूरोपीय भाषाओं में अनुवादित किया जाना चाहिए।
फरहूद ने दुनिया भर की सभी मस्जिदों में इस कदम को आगे बढ़ाने का आह्वान किया और कहा कि यह तब तक महत्वपूर्ण नहीं होगा जब तक फिलिस्तीन की पूर्ण स्वतंत्रता हासिल नहीं हो जाती है।
3833616

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :