IQNA

15:38 - August 11, 2019
समाचार आईडी: 3473869
अंतर्राष्ट्रीय समूह- हुज्जाजे बैतुल्लाह अल-हराम ने आज ईद अल-अज़्हा की सुबह होते ही रम्ये जमरात समारोह के लिए मिना की ओर प्रस्थान किया।
अल जज़ीरा द्वारा उद्धृत IQNA की रिपोर्ट; हज्जे तमत्तो में से एक अमल तीन शैतानों त्रय (प्रथम, मध्य और अक़बा) को ककंकरियां मारना होता है।
हुज्जाजे बैतुल्लाह अल-हराम, ईद-अल-अज़्हा के  अवसर पर दसवीं ज़िल्हिज को सुबह की प्रार्थना के बाद, मज़दुल्फ़ा से मिना की ओर चल पड़ते हैं ता कि ईद अल-अज़्हा के दिन जम्रऐ अक़बा को पत्थर मारें। 
इस साल भी हाजी लोगों ने, आज रविवार (सऊदी अरब में ईद अल-अज़्हा के अवसर पर) सुबह की प्रार्थना के बाद, मशअर अल-हराम से मिना की यात्रा की, जहां वह रम्ये जम्रऐ अक़बा और क़ुर्बानी सहित हज के अन्य कार्य करेंगे।
तीर्थयात्री लोग शैतान के प्रतीकात्मक को पत्थर मारने के बाद क़ुर्बानगाह की ओर चल दिऐ ताकि भेड़ का बलिदान करें और बलिदान के बाद, तक़्सीर (सिर को शेविंग करना या कुछ बाल या नाखून काटना)का प्रदर्शन करें । 
इसके अलावा, ईद अल-अज़्हा दिवस के आमाल अंजाम देने के बाद, तीर्थयात्री मक्का जाते हैं और तवाफ़ और सई करते हैं, और फिर 11, 12, और 13 ज़िल्हिज को रम्ये जमरात के लिऐ मिना में वापस स्थानांतरित हो जाते हैं।
 3834150
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :