IQNA

20:02 - September 06, 2019
समाचार आईडी: 3473948
अंतर्राष्ट्रीय समूहः एक कश्मीरी शिया कार्यकर्ता ने एक बयान जारी किया है जिसमें भारतीय अधिकारियों द्वारा मोहर्रम में शोक समारोह पर प्रतिबंध को उठाने के लिए कहा है।

अंतर्राष्ट्रीय कुरआन समाचार एजेंसी (IQNA) ने यूनिवर्सल न्यूज टाइमलाइन डेटाबेस के अनुसार बताया कि कश्मीर के राजनीतिक कार्यकर्ता सैय्यद कर्रार हाश्मी ने एक बयान जारी कर भारतीय अधिकारियों से अनुरोध किया है कि वे शोक के महीने में अज़ादारी करने की अनुमति दें।
मुहर्रम के महीने में अज़ादारी पर प्रतिबंध शिया धार्मिक अधिकारों के उल्लंघन है जिसको कानून प्रवर्तन और व्यवस्था के बहाने में मुहर्रम के महीने में प्रतिबंध लगा दिया।
उन्होंने जोर देकर कहा कि मुहर्रम के महीने में अज़ादारी करना शियाओं के मौलिक अधिकारों में से एक है, और इस बात पर जोर दिया कि समारोह हमेशा शांतिपूर्वक आयोजित किया गया और सुन्नियां शियाओं के साथ समारोह में भाग लेते हैं।
कश्मीर के गवर्नर हाशमी और अन्य अधिकारियों ने आह्वान किया कि वे शिया नेताओं को तत्काल रिहाई के साथ मुहर्रम की रस्म करने की अनुमति दें।
याद रहे कि हाल ही में कश्मीर शिया समुदाय के प्रमुख और पूर्व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री इमरान रजा अंसारी सहित कई कश्मीर शिया नेताओं पर कार्रवाई के दौरान, उन्हें भारतीय सुरक्षा बलों ने हिरासत में लिया है।
मुहर्रम की आठ को शिया समुदाय का सबसे बड़ा पारंपरिक शिया मार्च है जो भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित है।
3840376

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :