IQNA

16:29 - September 13, 2019
समाचार आईडी: 3473970
अंतर्राष्ट्रीय समूहः पाँच यूरोपीय देशों ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, इटली और स्पेन ने एक संयुक्त बयान जारी कर नेतन्याहू के पश्चिम बैंक के कब्जे वाले फिलिस्तीनी क्षेत्रों के हिस्सों को मीलाने के फैसले का विरोध किया।

अंतर्राष्ट्रीय कुरआन समाचार एजेंसी (IQNA) ने अल-कुद्स अल-अरबी समाचार साइट के अनुसार बताया कि 12 सितंबर की शाम तक एक बयान जारी कर कहा कि यह 5 यूरोपीय देशों ने नेतन्याहू की योजना वेस्ट बैंक, विशेषकर जॉर्डन घाटी और उत्तरी मृत सागर क्षेत्र के कब्जे वाले फिलिस्तीनी क्षेत्रों में एकीकृत करने पर गहराई से चिंतित हैं।
बयान के अनुसार, इजराइल का फैसला, अगर लागू किया जाता है, तो अंतरराष्ट्रीय कानून का गंभीर उल्लंघन होगा।
 इस बीच, संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भी इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की वेस्ट बैंक के खिलाफ टिप्पणी का जवाब देते हुए कहा कि वेस्ट बैंक पर नेतन्याहू के बयान परेशान करने वाले थे और अंतरराष्ट्रीय क़ानून का उल्लंघन है।
बेंजामिन नेतन्याहू ने हाल ही में अपने प्रचार अभियान के दौरान दावा किया था कि अग़क 17 सितंबर को आयोजित होने वाले संसदीय चुनाव जीता होते हैं
वेस्ट बैंक और जॉर्डन घाटी और डेड सी पर इजरायल की संप्रभुता को लागू करेंगे। इस निर्णय को अरब और अंतरराष्ट्रीय हलकों द्वारा कड़ी निंदा की ग़ई
 3841772

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :