IQNA

13:23 - February 14, 2013
समाचार आईडी: 2496406
सामाजिक समूहः पाकिस्तान में पंजाब प्रांत की राजधानी शहर लाहौर की फोरम "सुधारात्मक अलआरेफ़ीन" की ओर से संघ के कार्यालय में इस्लाम की दृष्ट न्याय के बारे में समीक्षा की गई.
ईरानी कुरान समाचार एजेंसी(IQNA) पश्चिम और दक्षिण पश्चिम एशिया में शाखा के अनुसार, यह सम्मेलन मंगलवार, 12 फरवरी को आयोजित किया गया, उलेमा, धार्मिक विद्वानों और विशेषज्ञों, और सुधारात्मक समुदाय अलआरेफ़ीन के सदस्यों तथा शहर के नागरिकों की एक संख्या हाज़िर रही.
यह संगोष्ठी देश के अग्रणी क़ारी द्वारा पवित्र कलामे ख़ुदा की आयतों से शुरू हुई और फिर सुल्तान अहमद अली, एसोसिएशन के महासचिव ने कहा है कि इस्लाम धर्म अपने अनुयायियों को न्याय और अद्ल का पालन करने के लिए कहता है, जैसा कि कुराने करीम में भगवान ने कहा कि वह हक़ बोलें भले उनके नुक़्सान पर तमाम हो.
उन्होंने कहा कि मुसलमानों को जीवन के सभी क्षेत्रों में पवित्र कुरान और इस्लाम की शिक्षाओं और अवधारणाओं को प्राप्त करना चाहिऐ ता कि सफल रहें.
सुल्तान अहमद अली अंत में पुष्टि की: मनुष्य को वैज्ञानिक निश्चितता तक ही सीमित नहीं होना चाहिए, बल्कि कोशिश करनी चाहिए कि हक़्क़ुल यक़ीन यानि भगवान का ज्ञान और क़ुर्ब प्राप्त करे.
1188235
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :