IQNA

17:42 - December 25, 2018
समाचार आईडी: 3473181
अंतर्राष्ट्रीय समूह- भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में नोएडा ज़िला पुलिस ने क्षेत्र के कार्यालयों और कंपनियों को आदेश दिया है कि वे अपने मुस्लिम कर्मचारियों को पार्कों जैसे खुले स्थानों में शुक्रवार की नमाज़ पढ़ने पर प्रतिबंध को बता दें।

 IQNA की रिपोर्ट कश्मीरी फ़िरी प्रेस द्वारा उद्धृत; राज्य पुलिस ने ऐक एलर्ट में विभागों और निगमों से कहा है कि वे अपने कर्मचारियों को पार्कों जैसे खुले स्थानों में शुक्रवार की प्रार्थना पर प्रतिबंध के बारे में बताएं। 
पुलिस ने चेतावनी दी कि अगर उन्होंने इस आदेश का उल्लंघन किया तो कंपनियों को जिम्मेदार ठहराया जाएगा।
पुलिस ने इस फैसले का बचाव करते हुऐ, यह तर्क दिया है कि खुले में नमाज पढ़ने से सार्वजनिक व्यवस्था पर काबू नहीं पाया जा सकता है। पुलिस अधिकारियों में से एक, पंकज राय कहते हैं: सार्वजनिक खुले स्थानों में अधिक लोगों द्वारा नमाज़ पढ़ने के बारे में कई शिकायतें मिलने के बाद, खासकर उन लोगों के बारे में, जो शुक्रवार की प्रार्थना में भाग लेते हैं, आदेश जारी किया। चूंकि अधिकांश उपासक आस-पास की कंपनियों के कर्मचारी हैं, इसलिए इन केंद्रों को यह आदेश दिया गया है। हमने उनसे मस्जिदों, धर्मस्थलों, या कारखानों और कंपनियों के अंदर इनडोर स्थानों जैसे स्थानों पर उनसे नमाज़ पढ़ने के लिए कहा।
यह बयान ऐसे समय में आया है जब हरियाणा राज्य के कई स्थानों पर कुछ दिनों पहले एक हिंदू चरमपंथी राष्ट्रवादी समूह ने शुक्रवार की प्रार्थना को बाधित कर दिया था।
3775583
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :