IQNA

16:07 - July 27, 2019
समाचार आईडी: 3473823
अंतरराष्ट्रीय समूह- फिलिस्तीनी इस्लामी प्रतिरोध (हमास) ने एक बयान जारी कर यरुशलम शहर में फिलिस्तीनी घरों को नष्ट करने के खिलाफ चीनी सरकार के रुख की प्रशंसा की है।

IQNA की रिपोर्ट अनातोलिया के अनुसार;हमास ने चीन के हालिया रुख की प्रशंसा करते हुए एक बयान जारी किया, जिसमें कहा गया कि बीजिंग ने एक बार फिर मध्य पूर्व में शांति और स्थिरता के लिए अपनी प्रतिबद्धता दिखाई है।
इस बयान में चीनी सरकार और अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों से सह्योनी शासन के कब्जे को समाप्त करने के लिए संयुक्त राष्ट्र में एक मजबूत भूमिका निभाने का आह्वान किया गया है।
पिछले सप्ताह संयुक्त राष्ट्र में चीन के स्थायी प्रतिनिधि वू हेताओ ने बैतुल मुक़द्दस में सोर बाहेर क्षेत्र को नष्ट करने को तत्काल रुकने की मांग की और नागरिकों के खिलाफ हिंसा की आलोचना की।
सह्योनी शासन ने बुलडोज़र और सैकड़ों सैनिकों ने पिछले सोमवार को यरूशलेम के वादी होम्स क्षेत्र पर धावा बोल दिया और क्षेत्र में कई इमारतों को नष्ट कर दिया।
इजरायली अधिकारियों का दावा है घरों का निर्माण अवैध रूप से किया गया था और वेस्ट बैंक और यरुशलम के बीच बफर जोन में मौजूद इजरायली बलों की सुरक्षा के लिए ख़तरा हैं।
ज़ायोनी शासन ने वर्ष 1967 के युद्ध के दौरान यरूशलेम पर कब्जा कर लिया। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के विरोध के बावजूद, यरूशलेम को 1980 वर्ष में यरूशलेम को यहूदी राज्य की अनन्त राजधानी घोषित किया गया।
3830257                                                                                  
 
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :