IQNA

14:41 - February 11, 2020
समाचार आईडी: 3474440
इस्लामी गणतंत्र ईरान भर में 11 फ़रवरी(22 बहमन) संवेदनात्मक रैली की शुरुआत के साथ, टेलीविजन, उपग्रह और समाचार नेटवर्क सहित दुनिया के अधिकांश मीडिया ने इस्लामी क्रांति और शहीद सरदार सुलैमानी के आदर्शों की रक्षा में मिल्यून ईरानियों की रैली को चित्रित किया।
IQNA समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, शानदार इस्लामी क्रांति की जीत की वर्षगांठ के अवसर पर ईरानी लोगों का मार्च विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मीडिया में दिखाया गया और अल-जज़ीरा, अल-इत्जा, अल-आलम, अल-मेनार, अल-मादीन जैसे चैनलों ने इस रैली के भागों को लाइव नेटवर्क पर दिखाया।
 
इस संबंध में, लेबनानी अल-मियादीन नेटवर्क ने आज की रैली में ईरानी राष्ट्र की भावुक उपस्थिति का उल्लेख करते हुए बताया कि ईरानी ध्वज और सरदार सुलेमानी की छवियों को लोकप्रिय सभा ने अलंकृत किया और ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने इस महाकाव्य में लोगों की भारी भागीदारी व्हाइट हाउस और अत्याचारियों के लिऐ सबसे मज़बूत जवाब बताया है।
इसी तरह अल-मनार न्यूज नेटवर्क ने यह भी बताया कि आज सुबह (मंगलवार) इस्लामी क्रांति की जीत की 41वीं वर्षगांठ का मार्च तेहरान में और देश के सभी प्रांतों में शुरू और सुबह-सुबह ईरानियों की एक बड़ी भीड़ सड़कों पर आ गई।
इस नेटवर्क के अनुसार 11 फरवरी रैली आयोजित होरही है, जबकि ईरान में कई शहरों में हिमपात हुआ है, लेकिन इस देश के नागरिक सख्त मौसम के बावजूद सड़कों पर उतर आए ता कि ईरानी इस्लामी क्रांति की 41वीं वर्षगांठ की याद मनाई। साथ ही, स्थानीय और विदेशी मीडिया के 6,000 से अधिक फोटोग्राफर और पत्रकार इस्लामिक क्रांति की जीत की सालगिरह को कवर कर रहे हैं।
 
Agence France-Presse 24 ने भी क्रांति की वर्षगांठ मार्च को ईरान और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच तनाव के बीच ईरानी राष्ट्र की एकता के प्रदर्शन के रूप में वर्णित किया।
 
जॉर्डन के "ख़बरनी" समाचार साइट ने भी 11 फ़रवरी मार्च को कवर किया और लिखा: ईरान ने मंगलवार को इस्लामिक क्रांति की जीत की 41वीं वर्षगांठ मनाई। तेहरान और पूरे देश में इस्लामी क्रांति की जीत की वर्षगांठ को चिह्नित करने के लिए इन रैलियों का आयोजन किया जा रहा है।
 
जेरूसलम पोस्ट ने सरदार सुलेमानी की शहादत के 40 वें दिन और क्रांति की जीत की सालगिरह के साथ ईरान और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच बढ़ते तनाव का उल्लेख किया है। मशहद, अहवाज़ और किरमान सहित ईरान के विभिन्न शहरों में लोगों ने क्रान्ति की जीत की वर्षगांठ के अवसर पर डेथ टू अमेरिका और डेथ टू इजरायल के नारे लगाते हुए क्रांति की जीत की सालगिरह मनाई।
एबीसी न्यूज नेटवर्क ने भी ईरान भर में इस्लामी क्रांति की वर्षगांठ पर लोगों की भावुक उपस्थिति को कवर किया। समाचार चैनल की रिपोर्ट के अनुसार ईरान और अमेरिका के बीच बढ़ते तनाव और ईरानी संसदीय चुनावों में निकटता ने मार्च के महत्व को बढ़ा दिया है।
 
एसोसिएटेड प्रेस ने 11 फ़रवरी की रैली के दौरान विभिन्न शहरों में ईरानी लोगों की बड़ी उपस्थिति की खबर भी जारी की।
 
इराक़ में अल-मिसीरा और अल-तजाह नेटवर्क भी रैली को लाइव कवर कर रहे हैं।
 
लेबनानी अल-अहमद साइट ने इस्लामिक क्रांति की जीत की 41सवीं वर्षगांठ की रैली पर ऐलान किया: ईरानी लोगों ने देश के विभिन्न हिस्सों में मार्च किया और ईरानी लोगों ने फिर से अमेरिकी-विरोधी नारे लगाकर अपनी क्रांति का समर्थन किया।
 
अपडेट हो रहा है ...
3878113
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :