IQNA

रमजान महीने की 15 वीं तारीख़ और इमाम हसन मुजतबा (अ.स.) के जन्म के अवसर पर, अलवी के पवित्र रौज़े के आंगन और प्रांगण को हरम के सेवकों द्वारा सजाया गया।