IQNA

14:43 - September 23, 2020
समाचार आईडी: 3475170
तेहरान (IQNA)पवित्र कुरान की तीन ऐतिहासिक प्रतियां, जिनमें से एक 500 से अधिक साल पहले की है, को यूएसए न्यूयॉर्क शहर, की एक लाइब्रेरी में रखा गया है।

अल-यौमुस्साबेअ के अनुसार, यदि हम दुनिया के प्रमुख पुस्तकालयों में खोज करें, तो हमें पवित्र कुरान की बहुत पुरानी प्रतियां मिलेंगी, क्योंकि मुसलमानों के लिए पवित्र कुरान के लेखन और संरक्षण का जज़्बा शुरू से ही बहुत महत्व रहा है, और ओरिएंटलिस्ट कुरान की पुरानी पांडुलिपियों का अनुवाद और संरक्षण करने में कोशिश की है।
 
लाइब्रेरियन के खाते ने ट्विटर पर कुरान की पुरानी प्रतियों की तीन तस्वीरें पोस्ट कीं, कैप्शन के साथ: "न्यूयॉर्क के मॉर्गन संग्रहालय और पुस्तकालय में पवित्र कुरान की तीन प्रतियां।"
 
इस लेख में, कुरान के पुराने संस्करणों की व्याख्या करते हुए, जिनमें उनकी तस्वीरें प्रकाशित हुई हैं, ने लिखा है: मुस्हफ़, जिसमें पवित्र सूर अल-फ़ातेहतुल-किताब शामिल है, वर्ष 1580 ईस्वी का फारस की भूमि शिराज शहर से संबंद्धित है।
 
मुस्हफ़, जिसमें सूरह अल-इस्राईल शामिल है, भी 1832 में उषमानी शासन की ओर पलटता है।
 
और हरा मुस्हफ भारत और विशेष रूप से कश्मीर क्षेत्र से संबंधित है, जो 1800 ईस्वी पूर्व का है।

نگهداری سه نسخه قدیمی قرآن کریم در یک کتابخانه آمریکایی

 

نگهداری سه نسخه قدیمی قرآن کریم در یک کتابخانه آمریکایی

 

نگهداری سه نسخه قدیمی قرآن کریم در یک کتابخانه آمریکایی

 

मॉर्गन लाइब्रेरी साहित्य, कला, संगीत और इतिहास के सबसे बड़े खजाने में से एक है, जो मध्य युग से लेकर बीसवीं शताब्दी तक कई दुर्लभ पुस्तकों और पांडुलिपियों को अपने अंदर लिऐ है।

 
इस पुस्तकालय की स्थापना 1906 में जेबी मॉर्गन के लिए एक निजी पुस्तकालय के रूप में की गई थी और इसकी लागत $ 1.2 मिलियन थी। 1924 में यह एक सार्वजनिक संस्थान बन गया और 1966 में इसे न्यूयॉर्क के प्राचीन स्थलों में से एक के रूप में पंजीकृत किया गया।
3924823

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: