IQNA

14:55 - January 27, 2021
समाचार आईडी: 3475574
तेहरान (IQNA (येरेवन स्टेट यूनिवर्सिटी के संकाय के प्रमुख, आर्मेनिया में ईरानी सांस्कृतिक सलाहकार के साथ एक बैठक के दौरान, विश्वविद्यालय में इस्लामी अध्ययनों पर अल्पकालिक पाठ्यक्रम रखने के लिए विश्वविद्यालय की तत्परता की घोषणा किया।
इकना ने इस्लामिक संस्कृति और संचार संगठन के अनुसार बताया कि अरैमानिया में ईरान के सांस्कृतिक सलाहकार, सैय्यद हुसैन तबातबाई ने येरेवन स्टेट यूनिवर्सिटी के धर्मशास्त्र संकाय के डीन बिशप अनुशवन के साथ एक बैठक में, उन्होंने सांस्कृतिक और वैज्ञानिक क्षेत्रों में दोनों देशों के संबंधों की संभावनाओं को स्पष्ट और उम्मीद के रूप में वर्णित किया, और ईरान और आर्मेनिया के बीच सहयोग की आवश्यकता पर बल दिया।
उन्होंने कहा: कि इस्लामी गणतंत्र ईरान के सभ्यताओं और धर्मों के संवाद के प्रचारक के रूप में, वह विभिन्न धर्मों के अनुयायियों के बीच बातचीत को वैश्विक संकटों से निपटने के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक मानता है, और इसके साथ ही, उन्होंने विभिन्न धर्मों के नेताओं के साथ धार्मिक संवादों की एक श्रृंखला आयोजित की है।  
अपने भाषण में, बिशप अनुशवन ने सच्चे इस्लाम के ज्ञान को अर्मेनियाई समाज द्वारा सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक माना, जिसमें इस देश की जनता और कुलीन शामिल हैं।
उन्होंने आगे येरेवन विश्वविद्यालय के संकाय के धर्मशास्त्र की तत्परता की घोषणा की और प्राध्यापकों और छात्रों को इस्लामी धर्मशास्त्र और अर्मेनियाई धर्मशास्त्र के क्षेत्र में आदान-प्रदान करने और इस संकाय में इस्लामी अध्ययन पर लघु पाठ्यक्रम आयोजित करने की घोषणा किया है।
येरेवन स्टेट यूनिवर्सिटी के संकाय के प्रमुख ने फारसी के साथ येरेवन के संकाय के छात्रों की परिचितता को ईरानी इस्लाम में प्रवेश करने की कुंजी माना और मांग की कि इस संकाय में फारसी भाषा सिखाई जाएग़ी।
3950252
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: