IQNA

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय:
15:31 - June 08, 2021
समाचार आईडी: 3476007
तेहरान (एकना) अलीगढ़ (Aligarh) अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति, प्रोफेसर तारिक मंसूर ने शिक्षकों, कर्मचारियों, छात्रों तथा उनके परिवारों समेत एएमयू बिरादरी के सभी सदस्यों तथा अन्य संबंधित लोगों से प्राथमिकता के आधार पर कोविड-19 के विरूद्ध टीका लगवाने का आग्रह किया है ताकि लोग स्वयं को महामारी से सुरक्षित रख सके।

अलीगढ़ (Aligarh) अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति, प्रोफेसर तारिक मंसूर ने शिक्षकों, कर्मचारियों, छात्रों तथा उनके परिवारों समेत एएमयू बिरादरी के सभी सदस्यों तथा अन्य संबंधित लोगों से प्राथमिकता के आधार पर कोविड-19 के विरूद्ध टीका लगवाने का आग्रह किया है ताकि लोग स्वयं को महामारी से सुरक्षित रख सके।

आज जारी एक अपील में, कुलपति ने कहा कि वैक्सीन लेने में हिचकिचाहट के कारण विश्वविद्यालय कर्मचारियों और उनके परिवारों के बीच बड़ी संख्या में कोविड-19 के मामले बढ़े जिस ने परिणामस्वरूप रुग्णता और मृत्यु दर को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। यह सभी संकायों के डीन, प्रिंसिपल, विभागाध्यक्षों, प्रोवोस्ट, अनुभागाध्यक्षों, शिक्षकों, गैर-शिक्षण कर्मचारियों तथा पूर्व छात्र समुदाय समेत हम सभी की जिम्मेदारी है की हम सभी कर्मचारियों, उनके परीवारजनों तथा छात्रों को प्रेरित करें और प्रयास करंे कि सभी लोग भारत सरकार तथा मेडिकल के निर्देशों के अनुरूप कोविड-19 से सुरक्षा के लिये टीका आवश्य लगवाएं।
कुलपति ने अपनी अपील में कहा कि सभी अध्ययनों से संकेत मिलता है कि टीके गंभीर बीमारी, अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु से सुरक्षा प्रदान करते हैं। कोविड की वर्तमान स्थिति को नियंत्रित करने के साथ-साथ भविष्य में इसकी संभावित तीसरी लहर को रोकने के लिए भी टीकाकरण आवश्यक है।
अपील में आगे कहा गया है कि 45 वर्ष और उससे अधिक आयु वर्ग तथा 18-44 वर्ष के व्यक्तियों के लिए किसी भी अनुमोदित टीकाकरण केंद्र पर टीका लिया जा सकता है। जेएन मेडिकल कालिज में नए परीक्षा केंद्र तथा सभागार में भी दो टीकाकरण केंद्र संचालित हैं।
प्रोफेसर मंसूर ने आगे सभी एएमयू कर्मचारियों से अपने और अपने आश्रित परिवार के सदस्यों के टीकाकरण की स्थिति मेडिकल अटेंडेंस स्कीम (एमएएस), एएमयू के कार्यालय को इसके द्वारा प्रस्तावित प्रारूप में प्रदान करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि यह जानकारी हमें भविष्य की स्वास्थ्य योजना और टीकाकरण अभियान को सुव्यवस्थित करने में सहायक होगी।
अपील में कहा गया है कि व्यक्तिगत और सामुदायिक स्तरों पर कोविड के अनुकूल व्यवहार, अर्थात मास्क पहनना, शारीरिक दूरी, वेंटिलेशन, आदि हमारी सुरक्षा के लिए और दूसरी लहर के दौरान स्वास्थ्य सेवा प्रणाली पर दबाव कम करने के लिए महत्वपूर्ण है।
कुलपति ने इस मामले में सभी से, विशेषकर एएमयू कर्मचारियों, उनके परिवारों और छात्रों से सहायता एवं सहयोग का अनुरोध किया है।
प्रोफेसर मंसूर ने आज जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कालिज में दो टीकाकरण केंद्रों का भी दौरा किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया. उन्होंने टीकाकरण की प्रगति की भी जांच की और कर्मचारियों, स्वयंसेवकों और आम लोगों के साथ विचारविमर्श किया जो टीका लगवाने आए थे।

source:avadhnama

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: