IQNA

चर्च को सभी के लिए एक सुरक्षित घर होना चाहिए, पोप फ्रांसिस

14:39 - October 06, 2021
समाचार आईडी: 3476470
तेहरान(IQNA)ईसाई समुदाय के धार्मिक नेता पोप फ्रांसिस का कहना है कि वह फ्रांस में बाल यौन शोषण से निपटने में कैथोलिक चर्च की अक्षमता से दुखी और शर्मिंदा हैं।
ईसाई समुदाय के धार्मिक नेता पोप फ्रांसिस का कहना है कि वह फ्रांस में बाल यौन शोषण से निपटने में कैथोलिक चर्च की अक्षमता से दुखी और शर्मिंदा हैं। चर्च सभी के लिए एक सुरक्षित आश्रय स्थल होना चाहिए।
वेटिकन के एक बयान में कहा गया है कि संत पापा फ्राँसिस ने त्रासदी से प्रभावित बच्चों के साहस की भी प्रशंसा की है।
 
संत पापा फ्राँसिस ने यह आशा भी व्यक्त की है कि फ्रांसीसी चर्च क्रूर तथ्यों को रोकने के लिए कदम उठाएगा।
फ्रेंच कैथोलिक चर्च में कल बाल शोषण की एक जांच रिपोर्ट जारी की गई।
 
रिपोर्ट के अनुसार, 1950 से 2020 तक, चर्चों में बाल शोषण के 216,000 मामले हुऐ और बाल शोषण में चर्च के 2,900 से 3,200 पादरी और फ्रेंच कैथोलिक अन्य सदस्य शामिल रहे थे।
स्रोतःसमाचार साईट जंग,उर्दू पाकिस्तान
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
captcha