IQNA

तेहरान(IQNA) सूरह अल-इन्फ़ितार की आयत 6 और 7 से ईरान के प्रतिष्ठित और अंतर्राष्ट्रीय पाठकों के श्रव्य सामंजस्य को सुनने वालों के लिऐ प्रस्तुत करती है। मेहदी ग़ुलाम नजाद, हुसैन फ़रदी, वहीद नज़रियान और मोहसिन यार अहमदी कुरानिक समुदाय के पाठकों और लेखकों में से हैं जिन्होंने इन आयतों का प्रदर्शन किया।