IQNA

10:15 - January 03, 2011
समाचार आईडी: 2057788
अंतरराष्ट्रीय समूह: शेख "हसन Alsfar, सऊदी Shi'i विचारक और ख़तीबे जुमा Qtyf,ने ऐक शिक्षक को, शिया धर्म के आधार पर प्रार्थना शिक्षण और स्कूल में नमाज़ जमात धारण करने की वजह से निकाल दिऐ जाने पर, जोरदार आलोचना की.
ईरानी कुरान समाचार एजेंसी (IQNA)के अनुसार, Rasd समाचार नेटवर्क के हवाले से,Hojjatoleslam शेख हसन Saffar ने 30 दिसम्बर को शुक्रवार प्रार्थना के उपदेश में, देश के शिया शिक्षक को शिया धार्म के आधार पर प्रार्थना शिक्षा की वजह से निकाल दिऐ जाने की निंदा की और कहा: " फ़ौज़ी शनर" शहर उम्मुल hmam के शिया शिक्षक का निकाला जाना शिया धार्म के आधार पर प्रार्थना शिक्षा की वजह से, मंत्रालय द्वारा कुछ अजीब है.

इसके बाद उन्हों ने सत्तारूढ़ सऊदी शिक्षा मंत्रालय से इस आदेश पर समीक्षा करने की दावत की और कहा: शिक्षा मंत्रालय इस लिऐ कि ऐसी समस्या ना पैदा हों और नागरिकों की भावनाओं को ज़ख़मी न करें इस आदेश पर विचार करें और नागरिकता और मानव अधिकार की अवधारणा के लिए प्रतिबद्ध रहें.
हसन Saffar ने कहा: दुर्भाग्य से, कुछ अतिवादी समूहों की कोशिश है कि सिर्फ देश पर सत्तारूढ़ धर्म पर आधारित अपनी राय को मुसल्लत करें और अन्य धर्मों का सम्मान न करें तथा अन्य धर्मों के विचारों और राय को एक अपराध मानते हैं.

यह उल्लेख के लायक है, सऊदी शिक्षा मंत्रालय ने, पिछले सप्ताह, " फ़ौज़ी शनर" को शिया धर्म के आधार पर, शिया छात्रों को प्रार्थना शिक्षा और स्कूल में प्रार्थना सभा की वजह से, खारिज कर दिया था.
722660

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: