IQNA

5:06 - September 22, 2012
समाचार आईडी: 2416399
अंतरराष्ट्रीय समूह: नूरी मलीकी, इराकी प्रधानमंत्री ने सोमवार, 20 सितंबर को, नजफ़ अशरफ़ में एक भाषण के दौरान, आपत्तिजनक फिल्मों और छवियों के रूप में पवित्र पैगंबर मुहम्मद (PBUH) के अपमान के पीछे यहूदी संगठनों को बतया.
ईरानी कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) सौतुल इराक़ सूचना वेब्साईट के अनुसार, नूरी मलीकी इराकी प्रधानमंत्री ने2 सितंबर को, "हज और Umrah" बोर्ड के सम्मेलन में, जो नजफ में आयोजित किया गया,अपने भाषण में कहा कि एक बात जिसे आज हम बराबर देख रहे हैं वह इस्लाम, पैगंबर और आं हज़रत के मिशन को अश्लील फिल्मों और चित्रों के माध्यम से लक्षित किया जारहा है कि इन प्रयासों के पीछे यहूदी और सलीबी संगठनों का हाथ है.

नूरी मलीकी ने आगे अपनी स्पीच में दुन्या के सभी लोगों से इस्लामी मुक़द्दसात की रक्षा और उनके सम्मान का आग्रह किया और कहा कि आज हम क्षेत्र में बहुत ख़तरनाक षंडयत्रों की ऐक लहर देख रहे हैं जिसका वास्तविक कारण साम्प्रदायक मतभेद फैलाना है.

इराकी प्रधानमंत्री ने इसी तरह धार्मिक मुक़द्दसात के अपमान विशेष रूप से पैगंबर(स.व.) के बारे में आपत्तिजनक यहूदी अमेरिकी फिल्म की निंदा करते हुऐ, सभी दिव्य धर्मों के मानने वालों से नस्लवादी समूहों से मुक़ाबिला करने और उनके विचारों के प्रकाशन न करने का अनुरोध किया.
उन्हों ने अंत में सभी हज के अधिकारियों और मिशनरियों से एकता के महत्व को समझाने और इस्लाम व धार्मिक मुक़द्दसात की रक्षा के क्रम में मुसलमानों की ऐकजुटता को बयान करने का आग्रह किया.
1103283
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: