IQNA

18:12 - March 18, 2015
समाचार आईडी: 3008642
इंटरनेशनल ग्रुपः 200 से अधिक मस्जिदों के इमामों, कार्यकर्ताओं और ब्रिटेन में मुस्लिम संगठनों के नेताओं ने एक खुले पत्र में सरकार की निंदा की कि आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए कानूनी उपायों के माध्यम से इस्लाम पर आरोप लगाने की कोशिश में है.

अंतर्राष्ट्रीय कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) Sapginewa जानकारी डेटाबेस के अनुसार, इस पत्र के हस्ताक्षरकर्ताओं ने उनकी ओर से हिंसा की निंदा करने के बाद भी, मुसलमानों की बदसूरत छवि दिखाने की निंदा की और कहाः मई में संसदीय चुनावों की पूर्व संध्या पर, राजनीतिक कारणों के लिए आतंकवादी खतरों की धमकी का दुरुउपयोग किया जारहा है, मुस्लिम नेताओं ने सरकार पर आरोप लगाया कि उसका इरादा है कि अंग्रेज़ों के डर से ग़लत लाभ ले और चुनावों करने वालों का ध्यान अर्थ ब्यवस्था और स्वास्थ चिकित्सा की गिरावट से फेर दे और और ब्रिटिश विदेश नीति की आलोचना को सुरक्षा और प्रवास की योजना मुद्दों से लोगों को चुप रखे.
इस पत्र के लेखकों ने घोषणा की, शब्दों का प्रयोग जो कि ग़लत रूप में किया गया है और नकारात्मक राजनीतिक को दर्शाता है जैसे "कट्टरपंथ और उग्रवाद" स्वीकार्य नहीं है.
नए आतंकवाद विरोधी कानून जो कि "थेरेज़ा मी" आंतरिक मामलों के मंत्री द्वारा पेश किया गया आतंकवादी गतिविधि में संदिग्ध व्यक्तियों के पासपोर्ट रद्द कर देना आसान हो जाऐगा.
यह कानून इसी तरह अधिकारियों को अनुमति देता है सरकारी संस्थानों जैसे स्कूलों और विश्वविद्यालयों के माध्यम से जो कि युवाओं को अतिवाद लक्षणों में फंसने की सूचना देते हैं, लोगों को आतंकवादी गुटों में शामिल होने से रोकने में रुकावट बन सके.
3000092

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: