IQNA

18:19 - December 25, 2016
समाचार आईडी: 3471051
अंतरराष्ट्रीय टीमः पाकिस्तान के अधिकारियों ने सिंध प्रांत में दो हजार से अधिक धार्मिक स्कूल, जिनमें से अधिकांश चरमपंथियों द्वारा चलाऐ जारहे थे, बंद करने की सूचना दी।

पाकिस्तान में चरमपंथ को बढ़ावा देने वाले स्कूल बंद

अंतरराष्ट्रीय कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) समाचार चैनल "डॉन न्यूज" के हवाले से,पाकिस्तान के सिंध प्रांत की सरकार ने, उग्रवाद को बढ़ावा देने वाले सिंध में 2 हजार 309 अवैध स्कूलों पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है।

पाकिस्तान की यह कार्वाई उस समय की गई है कि सरकारी अधिकारिक शुमार के मुताबिक़ 10 हज़ार से अधिक अवैध स्कूल ऐक मिल्युन से अधिक छात्रों के साथ सिंध में मौजूद हैं जिनमें 818 लोग विदेशी छात्र हैं।

पाकिस्तानी अधिकारियों ने घोषणा की है कि इन स्कूलों की ऐक संख्या ग़सबी भूमि में बनाया गया है और अधिक्तम लाइसेंस के बिना काम कर रहे हैं।

सरकारी अधिकारियों के अनुसार, धार्मिक स्कूलों पर देखरेख का अधिकारिक बिल सिंध विधानसभा के सदस्यों द्वारा मजबूत समर्थन होने के बावजूद उग्रवादी धार्मिक समूहों के दबाव की वजह से मंजूरी नहीं दी गई है।

पाकिस्तानी गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ सदस्य ने कहा: स्कूलों की निगरानी और पंजीकरण आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए राष्ट्रीय योजना में मौजूद है, लेकिन यह काम अभी तक नहीं किया गया है।

पिछले महीने भी सिंध सरकार ने अपनी रिपोर्ट में यह लिखा है कि लग भग 93 स्कूलों में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम दिया जारहा है कि तय था उन के साथ निपटा जाए, लेकिन अभी तक कुछ नहीं किया गया है।

पाकिस्तान में 10 हजार स्कूलों में अवैध गतिविधियां की जारही हैं हिंसा और उग्रवाद के प्रसार में महत्वपूर्ण भूमिका रखते हैं, लेकिन राजनीतिक समूहों, धार्मिक, Salafist और सुन्नी चरमपंथियों के दबाव की वजह से, सरकार ने इन स्कूलों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई नहीं की है।

3556313

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: