IQNA

15:24 - March 05, 2017
समाचार आईडी: 3471251
अंतरराष्ट्रीय समूह: ब्रुनेई देश, एशियाई क्षेत्र में जनसंख्या के मामले में सबसे छोटा एक इस्लामी माना जाता है एक रिकार्ड तरीन देशों में से है ऐसे कि सबसे अमीर इस्लामी देश और दुनिया में पांचवां सबसे धनी देश है।

क्या आप इस्लामी और अमीर देश ब्रुनेई के बारे में नहीं जानते हैं

अंतरराष्ट्रीय कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) अलमवातिन समाचार साइट के अनुसार, "शांति की भूमि" या "ब्रूनेईदारेस्सलाम" दक्षिण पूर्व एशिया में बोर्नियो के उत्तरी तट पर स्थित है।

ब्रुनेई मलेशिया के बगल में स्थित है, और वास्तव में अतीत में मलेशिया के अन्य भागों के साथ ब्रिटिश संरक्षित, एक देश था। ब्रुनेई में इस क्षेत्र में ऐसा भाग है कि 1963 में ब्रिटिश संरक्षित रहने के लिए पसंद किया और मलेशिया में शामिल नहीं हुआ।

यह देश 1984 में स्वतंत्र हुआ तेल और गैस के प्रचुर संसाधनों के कारण, दुनिया में सबसे स्टंडर्ड जीवन स्तर रखता है।

इस्लाम ब्रुनेई में आधिकारिक धर्म है, और इस देश की जनसंख्या का 60 प्रतिशत से अधिक हिस्सा मुसलमान हैं।

ब्रुनेई पूर्व एशिया में सबसे बड़ी मस्जिद रखता है यह मस्जिद "सुल्तान उमर सैफ़ुद्दीन" या "गोल्डन मस्जिद" के नाम से जानी जाती है, ब्रुनेई की राजधानी पोर्ट 'सेरी बेगावान "के केंद्र में झील पर, 1958 में बनाई गई थी।

ब्रुनेई के सुल्तान हसन Alblkya है, वह एक अमीर देश के राजा हैं और सारी चीज़ों में सोने के उपयोग में गहरी रुचि रखते हैं।वह बचपन में खाना सोने के बर्तन में और सोने के चम्मच से खाते थे उनके सारे कपड़ों में अधिक मात्रा में सोना व जवाहेरात का इस्तेमाल किया गया है।

यह देश में भीइसी तरह दुनिया का सबसे बड़ा शाही महल रखता है महल का नाम "आस्तानऐ नूरे ईमान"है और राजा का सरकारी निवास है,यह महल राजधानी के दक्खिन (बंदर सेरी बेगावान) में ब्रुनेई नदी के तट पर स्थित है, 1788 कमरे और 110 कारों के लिए पार्किंग है,इस महल में 650 बोर्डों स्थापित हैं कि एक आगंतुक सभी कमरों को देखने के लिए अगर केवल 30 सेकंड ले, तो पूर्ण 24 घंटे लगते हैं। ब्रुनेई रॉयल पैलेस इसी तरह एक झील का मालिक है जहां दर्जनों क़िस्म की डॉल्फिन हैं।

शाह अब्दुल्ला कल, 4 मार्च को छुट्टी बिताने के लिए एक हजार व 500 शहज़ादों व साथियों के साथ इंडोनेशिया के द्वीप बाली, के लिए यात्रा से पहले कुछ घंटे की यात्रा के लक्ष्य से जकार्ता से ब्रूनेईदारेस्सलाम लिए रवाना हुऐ।

राजा सलमान ने इस देश के राजा से मुलाक़ात के बाद द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने के लिऐ ऐक बैठक में भाग लिया,इस बैठक मे सऊदी राजा ने विशेष रूप से आर्थिक गतिविधि और कला, शिक्षा, संस्कृति, युवा और खेल के क्षेत्र में निवेश के समझौतों पर हस्ताक्षर किए,जो सब के सब, पर्यवेक्षकों के अनुसार, मध्य पूर्व में सऊदी अरब की नीति की विफलता के कारण आले सउद की नज़र दूर के देशों पर है।

3580779

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: