IQNA

17:25 - February 17, 2018
समाचार आईडी: 3472286
पाकिस्तान में मुसलमानों की एकता में विश्वविद्यालयों की भूमिका की जांच की जाएग़ी

40 देशों के विचारकों की भागीदारी के साथअंतर्राष्ट्रीय समूहः पहली अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन पाकिस्तान में "इस्लाम के सच्चे विश्वासों को बढ़ावा देने में इस्लामिक विश्वविद्यालयों की भूमिका का अध्ययन और मुस्लिम यूनिटी के एकीकरण पर इसका प्रभाव" आयोजित किया जाएग़ा।
अंतर्राष्ट्रीय कुरआन समाचार एजेंसी (IQNA) ने सादा-ए- अल-बलद समाचार एजेंसी के मुताबिक बताया यह संगोष्ठी मार्च में पाकिस्तान के हायर एजुकेशन के सहयोग से इस्लामाबाद के इंटरनेशनल इस्लामिक यूनिवर्सिटी में दुनिया भर के 40 देशों के विचारकों और विशेषज्ञों की मौजूदगी में आयोजित किया जाएग़ा।
इस्लामिक यूनिवर्सिटी ऑफ पाकिस्तान के प्रमुख हमद बिन यूसुफ दरविश ने कहा कि "यह देखते हुए कि अब तक की अधिकांश समस्याओं का हम सामना कर रहे हैं, जो मुसलमानों और यहूदियों, पूर्व और पश्चिम के बीच उठते हैं, और कुछ लोग़ हैं जो स्वयं को इस्लाम के प्रति वकालत करते हुए इसका अपमान करते हैं सम्मेलन में भाग लेने वाले इस्लामिक विश्वविद्यालयों की सही शिक्षाओं और इस्लाम के इस्लामिक विश्वासों को बढ़ावा देने में भूमिका की चर्चा करेंग़ें।
उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी इस्लाम के उम्मा की स्थिति को मजबूत करने के लिए एक सांस्कृतिक और सभ्य परियोजना है, जबकि हम एक ऐसे युग में रहते हैं जहां शैक्षिक संस्थानों पर व्यापार ग़ालिब है और शिक्षा के दरवाजों को कई लोगों के लिए बंद कर दिया गया है।
3692192

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: