IQNA

18:22 - December 23, 2018
समाचार आईडी: 3473177
अंतर्राष्ट्रीय समूह-कराची, पाकिस्तान में ईरानी कल्चर हाउस के प्रयास से पवित्र कुरान हुस्न सस्वर पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया और शिया और सुन्नी विद्वानों की उपस्थिति के साथ एक समारोह में चयनित लोगों का सम्मानित किया गया।

इस्लामी संस्कृति और संबंध संगठन के हवाले से IQNA की रिपोर्ट, प्रतियोगिता "हुस्ने तिलावते कुरान"का कराची में ईरानी सांस्कृतिक केंद्र के ज़िम्मेदार मोहम्मद रज़ा बाक़री, शाह फ़ीरोज़ुद्दीन रहमानी और मक़्बूल अहमद, सुन्नी प्रमुख आलिम, Hojjat अल-इस्लाम मोहम्मद सादेक़ जाफ़री, मजलिसे वहदते मुस्लेमीन कराची के अध्यक्ष,ज़ाहिद लतीफ़, कराची में कुरानिक अध्ययन संस्थान मिनाहाजुलक़ुरान के प्रमुख, और मोहम्मद तैयब, मिनाहाजुलक़ुरान के शैक्षिक संस्थान के प्रमुख और हाफ़िज़ रहमतुल्लाह व अली अकबर दो प्रसिद्ध और सक्रिय कुरान रेफरी की मौजूदगी में आयोजन किया गया।
मौलाना शाह फ़ीरोज़ुद्दीन रहमानी ने, अपने भाषण में कहा, दुनिया के मुस्लिम्स कई सदयों से अहंकार के भूखंडों के कारण डिवीजनों तथा विभिन्न मदभेदों में फपंसे रहे थे यहां तक कि भगवान ने इस सदी की मुस्लिम उम्माह पर इमाम खुमैनी के रूप में एक महान आशीर्वाद अता किया, जिनके अथक प्रयासों ने शियाओं और सुन्नियों के बीच के अंतर को काफी कम कर दिया।
इस सुन्नी विद्वान ने कहा कुरान प्रतियोगिताऐं, सम्मेलन्स और वैज्ञानिक व अनुरेखक सम्मेलन्स, और अन्य महत्वपूर्ण सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रम जो कि कराची में इस्लामी गणतंत्र ईरान की संस्कृति सभा द्वारा आयोजित किए जजाते हैं, वास्तव में, इमाम खुमैनी के बौद्धिक और आध्यात्मिक ज्ञान की निरंतरता हैं।
उन्होंने कुरान के आध्यात्मिक फलों और बरर्कतों की ओर इशारा करते हुऐ कहाः कि किसी भी समय और किसी भी क्षेत्र में मुस्लिम राष्ट्र की सफलता व नजात का केवल नुस्ख़ा कुरान और इस दुनिया व आख़ेरत को जीतने की कुंजी और सच्चा धर्म, परमेश्वर के आदेशों का पालन और इस्लाम में प्रतिष्ठित पैगंबर (PBUH) की सीरत को नमूना क़रार देना है ।
हमारे देश के संस्कृति हाउस के जिम्मेदार बाक़री, ने पवित्र कुरान की आयतों, नबवी और इमामों की हदीसों के के दृष्टिकोण से कुरआनिक विज्ञान के गुणों और फ़ायदे के बारे में बयान किया।
इस समारोह के दौरान, मोहम्मद सअद बिन रहमतुल्लाह, कुमरुल इस्लाम मदरसा से, मुहम्मद उमर इब्न मुहम्मद शरीफ़ इसी हौज़े से और इमाम ख़ुमैनी विश्वविद्यालय (र) के मदरसे से आरिफ़ हुसैन की प्रतियोगिता के चयनित सदस्यों के रूप में घोषणा की गई।
 3774772
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: