IQNA

15:55 - April 20, 2020
समाचार आईडी: 3474664
तेहरान (IQNA),भारतीय शिया कानूनी बोर्ड ने कोरोना आपदा के दिनों में निवेशकों, मौलवियों और चैरिटीज़ से आह्वान किया है कि कोरोना के प्रकोप के दौरान जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए सीधे कार्वाई करें।
भारतीय शिया कानूनी बोर्ड ने उन लोगों से आह्वान किया है जो इन दिनों इस बोर्ड के बैंक खाते में अपना कैश दान कर रहे हैं, नक़द और आवश्यक वस्तुओं की सहायता सीधे गरीबों को दान करें।
 
भारतीय शिया कानूनी बोर्ड के महासचिव अली हुसैन क़ुम्मी ने कहा: वर्तमान में, बैंक खातों के माध्यम से धन जुटाने के बजाय, योग्य और गरीबों की सीधे मदद करना बेहतर है।
 
भारतीय शियाट कानूनी बोर्ड के महासचिव ने कहा, निवेशकों, दान देने वालों, परोपकारी और मौलवियों को सवयं आगे आना चाहिए और गरीबों को नकद और खाद्य सहायता प्रदान करें सरकार द्वारा सरकारी सहायता और खाद्य पदार्थों को वितरित करने के लिए घोषणा की जाती है, लेकिन इन उपायों से लोगों को लाभ नहीं मिलता है।
 
क़ुम्मी ने जोर दिया: अब नकद दान जमा करने के लिए बैंक की तलाश करने का समय नहीं है, बल्कि हमें हाथों हाथ देना होगा और सीधे गरीबों के पास जाकर उनकी मदद करनी होगी, लोगों को एक हजार या पांच सौ रुपये देने और कुछ क्षेत्रों में सहायक वस्तुओं के कुछ पैकेज वितरित करने से गरीबों की समस्या हल नहीं होगी।
 
उन्होंने कहा: सामान्य दिनों में, सरकार ने गरीब लोगों को क्या मदद दी है जो अब मदद की तलाश कर रहे हैं? अगर लोग मदद करना चाहते हैं, तो गरीबों को फायदा होगा।
 3892835

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: