IQNA

16:02 - September 18, 2020
समाचार आईडी: 3475150
तेहरान(IQNA )एक बाहिजाब महिला ने लॉस एंजिल्स पुलिस द्वारा दुर्व्यवहार और अपने हिजाब को हटाने के लिए मजबूर करने के लिए धार्मिक स्वतंत्रता के उल्लंघन के अपराध की इस शहर की पुलिस से शिकायत की है।

लॉस एंजेलिस टाइम्स के अनुसार, एक मुस्लिम महिला ने गुरुवार को दायर एक शिकायत में कहा कि लॉस एंजिल्स के पुलिस अधिकारियों ने उसे शहर पुलिस आयोग की बैठक से बाहर निकाल दिया और उसके हेडस्कार्फ़ को जबरन हटा दिया और उसके नागरिक और धार्मिक अधिकारों का उल्लंघन किया।
 
26 साल की नसीबा मुबारक ने एक ऑनलाइन न्यूज़ कॉन्फ्रेंस में बताया कि वह पिछले साल लॉस एंजिल्स पुलिस की घातक फ़ाएरिंग के बारे में पूछने के लिए एक सवाल-जवाब सत्र में थी, लेकिन तीन पुलिस अधिकारियों ने उसे बिना किसी चेतावनी के पकड़ लिया और उसे दीवार की ओर धक्का दे दिया।  उसे हथकड़ी लगाई गई, दूसरे कमरे में ले जाया गया, उसका दुपट्टा उतार दिया गया और उसके साथ अपमानजनक तरीके पेश आऐ।
 
मुबारक ने लॉस एंजिल्स में काउंसिल ऑफ़ अमेरिकन-इस्लामिक रिलेशंस (CAIR) द्वारा किऐ गऐ प्रतिनिधित्व वकीलों से कहा कि ह पुरुष अधिकारियों की उपस्थिति में अपने बंद किऐ जाने और हिजाब को हटाने जो कि मुस्लिम धार्मिक सिद्धांतों का उल्लंघन है का कोई कारण नहीं देखती है।
उसे बिना किसी आरोप के रिहा कर दिया गया, लेकिन इसने कार्वाई ने उसे झकझोर कर रख दिया।
 
उन्होंने यह भी कहा कि यह व्यवहार दर्शाता है कि इस शहर की पुलिस अन्य मामलों में भी धार्मिक कवर की स्वतंत्रता का उल्लंघन करती है और पुलिस द्वारा मुस्लिम महिलाओं के साथ संबंध में कानूनों में संशोधन करने का आह्वान किया है।
 
उनकी एक वकील लाना मिश्री ने कहाः मुबारक का अनुभव दिखाता है कि पुलिस बल में एक व्यापक प्रवाह है । बाहिजाब महिलाओं को लाल बत्ती के पीछे या अदालतों में भी पुलिस द्वारा बार-बार दुर्व्यवहार और जबरन हिजाब हटाऐ जाने का सामना करना पड़ता है।
3923616

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: