IQNA

16:42 - January 04, 2021
समाचार आईडी: 3475508
तेहरान(IQNA)क्वेटा, पाकिस्तान के बाहरी इलाके में एक तक्फ़ीरी समूह द्वारा 11 शिया खनिकों के अपहरण और हत्या के बाद, शिया नेताओं और उच्च रैंकिंग वाले पाकिस्तानी अधिकारियों ने मांग की कि अपराधियों की पहचान की जाए और उन्हें तुरंत दंडित किया जाए।
अल-जज़ीरा के हवाले से, अज्ञात बंदूकधारियों द्वारा दक्षिण-पश्चिमी पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के मच इलाके में 11 शिया खनिकों की हत्या ने आज देश के राजनीतिक और धार्मिक समुदाय के लोगों को कड़ी प्रतिक्रिया पर उभारा।
 
किसी भी समूह ने अब तक हत्याओं के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं किया है, लेकिन पाकिस्तानी सरकार ने अपराध के लिए विदेशी-जुड़े आतंकवादी तत्वों को दोषी ठहराया है, और शियाओं ने इस घटना के पीछे तक्फिरी समूहों को दोषी ठहराया है।
 
इस जघन्य कृत्य के बाद, पाकिस्तानी शिया नेता अल्लामा जाफ़री ने सरकार से इस आतंकवादी कृत्य के मुख्य अपराधियों और तक्फ़ीरी तत्वों के आंदोलनों की नई लहर के साथ निर्णायक रूप से निपटने का आह्वान किया।
 
इसी तरह पाकिस्तानी शिया पार्टियों में से मुस्लिम एकता सभा के महासचिव ने भी आतंकवादी हमले का जवाब देने के लिए पाकिस्तानी प्रधान मंत्री इमरान खान की सरकार से अपराधियों पर नकेल कसने के लिए कहा।
 
अल्लामा "नासिर अब्बास जाफ़री" ने आज ऐक बयान में तक्फ़ीरी आतंकवादी तत्वों द्वारा निर्दोष खनिकों के अपहरण और उनकी नृशंस हत्या की कड़ी निंदा की।
 
पाकिस्तानी प्रधानमंत्री, आंतरिक मंत्री और बलूचिस्तान प्रांत के सरकारी अधिकारियों ने भी संदेशों में शिया खनिकों की हत्या की निंदा की। इस बीच, हजारा शिया समुदाय से संबंधित बड़ी संख्या में लोगों ने क्वेटा शहर में एक हड़ताल का आयोजन किया है।
 
अग्रणी शियाओं के नेता अल्लामह जाफ़री ने शिया माइनरों की लक्षित हत्या की निंदा करते हुए क्वेटा में एक विरोध रैली के लिए समर्थन करते हुऐ चेतावनी दी कि यदि पाकिस्तानी सरकार हजारा शिया समुदाय को आज के आतंकवादी कार्वाई करने वालों को गिरफ्तार करने और दंडित करने और समुदाय के अन्य सदस्यों के लिए सुरक्षा प्रदान करने की मांगों का अनुपालन नहीं किया तो कल से देश भर में विरोध प्रदर्शन रैलियों का आयोजन किया जाएगा।
 
उन्होंने जोर देकर कहा कि पाकिस्तानी सेना और अन्य सुरक्षा एजेंसियों और कानून प्रवर्तन एजेंसियों को आगे बढ़ना चाहिए और बलूचिस्तान की शांति और सुकून को आतंकवादियों और तक्फिरी समूहों के लिए खिलौना नहीं बनने देना चाहिए।
 
एक संदेश में, पाकिस्तानी प्रधान मंत्री इमरान खान ने बलूचिस्तान प्रांत में 11 खनिकों की हत्या की कड़ी निंदा की और सुरक्षा एजेंसियों से इस आतंकवादी कार्वाई के अपराधियों की पहचान करने और उन्हें न्याय के हवाले करने के लिए अपनी सभी क्षमताओं का उपयोग करने का आह्वान किया।
 
इसी तरह पाकिस्तानी राष्ट्रपति आरेफ़ अलवी ने बलूचिस्तान में शिया खनिकों की कायरतापूर्ण हत्या की निंदा की और आश्वासन दिया कि पाकिस्तानी शासन इस आतंकवादी कार्वाई के अपराधियों पर मुकदमा चलाएगा और उन्हें सज़ा देगा।
 
हाल के वर्षों में, लश्कर-ए-झंगवी, तहरीक-ए-तालिबान और आईएसआईएस सहित तक्फिरी और आतंकवादी समूहों ने पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में शियाओं के खिलाफ सशस्त्र हमलों और आत्मघाती बम विस्फोटों की जिम्मेदारी ली है।
 3945485
  
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: