IQNA

15:46 - July 25, 2021
समाचार आईडी: 3476195
तेहहरान(IQNA)यमन में कुरानिक संस्कृति को पढ़ाने के लिए ग्रीष्मकालीन कक्षाओं की तकनीकी समिति के प्रमुख, ने कुरानिक वर्गों की समृद्धि और धार्मिक और कुरानिक संस्कृति शिक्षा कार्यक्रमों के लिए परिवारों और समुदाय की व्यापक स्वीकृति का जिक्र करते हुए कहा: "इस स्वागत ने सऊदी-ज़ायोनी दुश्मन के क्रोध को उभार दिया है।

अल-अहद समाचार वेबसाइट के हवाले सेः यमनी बच्चे इस साल गर्मी की छुट्टियां पवित्र कुरान और सीरते नबवी सीखने में बिता रहे हैं। एक अद्भुत गर्मी जिसमें यमन के आधिकारिक और लोकप्रिय समूहों ने यमनी क्रांतिकारी नेता अब्दुल मलिक बिन बदरुद्दीन अल-हौथी के कहने पर ग्रीष्मकालीन केंद्र खोले हैं ता कि एक स्वस्थ शैक्षिक वातावरण में एक स्वस्थ, बुद्धिमान और ज्ञानवान पीढ़ी के निर्माण करें।
इस वर्ष, यमन में ग्रीष्मकालीन केंद्रों और स्कूलों का नागरिकों द्वारा व्यापक रूप से स्वागत किया गया है। अकेले राजधानी सना प्रांत में, 219 शहरों में ग्रीष्मकालीन स्कूलों की संख्या 6,279 तक पहुँचती है, जिनमें से 4,801 लड़कों के लिए और 1,478 लड़कियों के लिए हैं।
यमन में ग्रीष्मकालीन पाठ्यक्रमों के लिए तकनीकी समिति के उप प्रमुख ओसामा अल-महतूरी ने अल-अहद के साथ ऐक बातचीत में कहा, "इस साल ग्रीष्मकालीन स्कूलों का स्वागत सभी के लिए अद्भुत था, और यमनी क्रांति के नेता ने हमारी मिल्लत के खिलाफ घेराबंदी और क्रूर आक्रमण के परिणामस्वरूप देश के खराब वित्तीय संसाधनों के बावजूद इन स्कूलों की स्थापना में बहुत सहायता प्रदान की है।
अल-महतूरी ने कहा कि यमनी ग्रीष्मकालीन कक्षाओं में छात्र धर्म के बारे में उपयोगी और आवश्यक विज्ञान सीखेंगे, और इस्लामी उम्मा के पहले आदर्श के रूप में फिलिस्तीनी आरमानों की शुरूआत यमनी ग्रीष्मकालीन स्कूलों के सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शामिल है, और यमनी छात्र अपने देश के सर्वोच्च लक्ष्य यानि मुसलमानों के पहले क़िबले को मुक्त कराना,से परिचित हो रहे हैं।
उन्होंने आगे कहा: यमन में ग्रीष्मकालीन पाठ्यक्रम सऊदी गठबंधन मीडिया द्वारा हमलों की एक हिंसक लहर के साथ है, जिसे कभी-कभी अल-हौथी ग्रीष्मकालीन केंद्र कहा जाता है और कभी-कभी युवा पीढ़ी के विचारों को ज़हर आलूद करने के घोंसले बताते हैं; क्योंकि दुश्मन इन ग्रीष्मकालीन रिसॉर्ट्स से यमनी नागरिकों के व्यापक स्वागत से असंतुष्ट हैं, और उम्मीद करते हैं कि वे अगली पीढ़ी को अपनी पहचान से अलग करदें और उन्हें लक्षित करें ताकि उन पर सैन्य हमले आसान हो जाऐं।
3985945

 
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: