IQNA

16:16 - August 01, 2021
समाचार आईडी: 3476218
तेहरान(IQNA)अल-अज़हर इस्लामिक सेंटर ने एक बयान जारी कर इराक़ी प्रांत सलाहुद्दीन में शोक सभा पर हालिया आतंकवादी हमले की निंदा की और आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में इराक़ी लोगों और सरकार के साथ अपनी एकजुटता व्यक्त की।

मवाज़ीन न्यूज के हवाले से, अल-अज़हर ने शुक्रवार शाम को उत्तरी इराकी प्रांत सलाहुद्दीन में शोक सभा में आईएसआईएल तत्वों द्वारा आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की, जिसमें कई लोग मारे गए और घायल हो गए।
 
अल-अजह़र ने एक बयान में जोर देकर कहा: "यह घटना, जिसमें निर्दोष लोगों का खून बहाया गया, एक विश्वासघाती आतंकवादी हमला था जो मानवीय और इस्लामी सिद्धांतों के विपरीत है और विद्रोही और आतंकवादी समूहों की गंदगी को दर्शाता है जो अपने  झूठ और तोहमत के माध्यम से इस्लाम से जूड़ गए हैं।
 
अल-अज़हर ने काले आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में इराक़ी नेताओं, सरकार और लोगों के साथ अपनी पूरी एकजुटता पर जोर दिया।
 
बयान में कहा गया है कि अल-अज़हर के प्रमुख शेख़ अहमद अल-तैय्यब ने पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना और सहानुभूति व्यक्त करते हुए पीड़ितों के लिए दया और क्षमा, उनके परिवारों के लिए धैर्य और शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की, और घायलों के लिए सर्वशक्तिमान ईश्वर की बारगाह में तत्काल की दुआ की।
 
आईएसआईएल के आतंकवादी तत्वों ने शुक्रवार शाम सलाहुद्दीन प्रांत के दक्षिणी शहर यष्रिब के एक गांव में एक गश्ती दल पर हमला किया, जिसमें तीन सुरक्षाकर्मी मारे गए।
 
नतीजतन, इराकी सुरक्षा बलों ने आईएसआईएल तत्वों पर गोलियां चलाईं, और आईएसआईएल ने शोक सभा में निर्दोष नागरिकों पर गोलियां चलाईं, जिसमें चार इराकी मारे गए और 17 अन्य घायल हो गए।
 
इस संबंध में, हाल के घंटों में, अल-हशद अल-शाबी ने आईएसआईएल तत्वों का सामना करने के लिए सलाहुद्दीन प्रांत के समारा में अधिक उपकरण और कर्मियों को भेजा है और इसमें आईएसआईएल के अवशेषों के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए इस प्रांत में एक विशेष खुफिया और सुरक्षा कार्यक्रम तैयार किया है। ।
3987661
 
 
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: