IQNA

14:57 - December 01, 2021
समाचार आईडी: 3476754
तेहरान(IQNA)इस्लामिक जिहाद आंदोलन के एक अधिकारी ने फिलिस्तीनी मुद्दे पर तुर्की के राष्ट्रपति के हालिया रुख की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि संयुक्त अरब अमीरात वर्तमान में इस क्षेत्र में ज़ायोनी शासन के साथ संबंधों को सामान्य करने के लिए परियोजना के गॉडफादर की भूमिका निभा रहा है।
अल-कुद्स अल-अरबी के हवाले से, फिलिस्तीनी इस्लामिक जिहाद आंदोलन ने यूएई के शासकों पर जोरदार हमला करते हुऐ, उन्हें कब्जे वाले शासन के साथ संबंधों को सामान्य करने की योजना का गॉडफादर कहा, और साथ ही तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोग़ान की इस्राइल पर अपने पिछले रुख से वापसी की आलोचना की। 
अल-मायादीन के साथ एक साक्षात्कार में, इस्लामिक जिहाद मूवमेंट के सूचना कार्यालय के प्रमुख दाऊद शहाब ने जोर देकर कहा कि तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोग़ान का रुख इजरायल के खिलाफ उनकी वापसी का संकेत है।
उन्होंने भविष्यवाणी करते हुए कि इसराइल के साथ संबंधों में सुधार की स्थिति की ओर बढ़ने के लिए तुर्की पर दबाव डाला जा रहा है कहाः किसी भी मामले में, कब्जे वाले शासन के साथ सामान्यीकरण प्रक्रिया का त्वरण हमें कभी भी आत्मसमर्पण करने के लिए मजबूर नहीं करेगा।
शहाब ने संयुक्त अरब अमीरात के शासकों की भी तीखी आलोचना करते हुए कहा:यह स्पष्ट है कि यूएई के शासक संबंधों को सामान्य करने की योजना के गॉडफादर हैं।
इस्लामिक जिहाद के अधिकारी ने कहा, यूएई तेल अवीव के साथ संबंधों को सामान्य करने के बदले अरब देशों के साथ विकास और समृद्धि के लिए बातचीत करके एक खतरनाक भूमिका निभा रहा है।
4017477

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: