IQNA

6:07 - December 26, 2011
समाचार आईडी: 2245127
इंटरनेशनल ग्रुप: सीरिया के मुफ्ती ने दमिश्क में हुए आतंकवादी बम विस्फोटों के बाद एक बयान जारी करके, इस देश के नागरिकों को यहूदी- अमेरिकी साजिशों से मुक़ाबला करने के लिए आंतरिक एकता बनाए रखने का अनुरोध किया.
ईरानी कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) लेबनान में प्रकाशित समाचार पत्र "अलइन्तेक़ाद" के हवाले से,"शेख अहमद बद्रुद्दीन हसून" सीरिया के मुफ्ती, ने एक बयान जारी करके सीरियाई नागरिकों से अपील की कि दमिश्क में हुए आतंकवादी बम विस्फोटों के शहीदों की भावना आनन्द के लिए इस देश की मस्जिदों में प्रार्थना करें.

अहमद बद्रुद्दीन हसून ने जोर दिया: वर्तमान घटनाऐं और वाक़ेआत हम से मुतालेबा कर रहे हैं कि सीरियाई लोग इन विविधतापूर्ण जैसे हमलों के बराबर कतारबद्ध खड़े होजाऐं
जिन्हों ने उनके देश को निशाना बनाया है.

सीरियाई मुफ्ती ने कहा: सीरियाई राष्ट्र के खिलाफ जो कुछ होरहा है, विदेशी अमेरिकी -यहूदी आक्रमण है जो मातृभूमि के कुछ धोखेबाज़ों के समर्थन से होरहा है.

उन्हों ने कहा: जो लोग इस अपराध के खिलाफ आज, चुप खड़े हैं और कहते हैं, मैं तटस्थ हूँ, उन्हों ने देश खिलाफ एक स्टैंड लिया है.
सीरयाई उलमाओं ने भी ऐक बयान जारी करके सभी सीरयन समूहों से उनके देश के ख़िलाफ़ साज़िश का मुक़ाबला करने के लिऐ सचेत रहने की अपील की और कहाः हम लड़ाई समाप्त करने और आतंकवादी कार्वाइयों का सामना करने के लिऐ सीरयाई क़ौम के साथ खड़े हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, दमिश्क आतंकवादी बम विस्फोट के शहीदों का अंतिम संस्कार, जो 44 लोगों की मृत्य और 166 लोगों सीरियाई नागरिकों के घायल पर समाप्त हुआ, परसों 24 दिसम्बर को शहर की उमय्यद मस्जिद में आयोजित किया गया.
922164

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: