IQNA

17:35 - December 05, 2016
समाचार आईडी: 3470993
अंतर्राष्ट्रीय समूह: इराक "मोसुल"शहर में एक सुरक्षा सूत्र ने मोसुल के पास "कन्ऊस" गांव में बम रखी कुरानी प्रतियों के पता चलने की सूचना दी।

मोसुल में बम रखी कुरानी प्रतियां मिलीं

अंतरराष्ट्रीय कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) "कुल अल इराक" समाचार एजेंसी के हवाले से, मोसुल में एक सुरक्षा सूत्र ने समाचार मीडिया के साथ एक साक्षात्कार में कहा: दाइश आतंकी समूह कन्ऊस गांव में जानबूझ कर कुरान के संस्करणों में बम रखे हैं और उन्हें सड़कों और घरों में प्रवेश दरवाजों पर रख दिया है।

इस सूत्र ने कहा इराकी सुरक्षा बलों ने अब तक दस्यों बम रखी कुरान की प्रतियां पाई हैं कि दाइश आतंकी- तक्फ़ीरी तत्वों ने इन क़ुरआनों के पृष्ठों को काट दिया और उनके अंदर बमों को रखा है।

यह पहली बार नहीं है कि दाइश ने बम रखे क़ुरआनों का उपयोग किया है इस आतंकवादी संगठन ने इस से पहले रमादी और दियाला इराक के शहरों में भी कलाम वहि का अपमान करके बम रखे क़ुरआनों का इस्तेमाल किया था।

दाइश आतंकी समूह पवित्र पुस्तक क़ुरआन, मस्जिदों और पूजा के धार्मिक केंद्रों में बम रख कर मोसुल में निर्दोष नागरिकों की हत्या की और इस्लाम और मानवता की पवित्रता का उल्लंघन किया है।

इराक की संयुक्त सेना बलों के कमांडर ने 29 नवंबर को मोसुल शहर के पास कन्ऊस गांव और Sharqat क्षेत्र में आज़ादी की घोषणा की है।

मोसुल आज़ादी आपरेशन जो 17 अक्टूबर को शुरू किया गया था,इस समय अध्धयन करने के साथ इराकी अधिकारियों के अनुसार, देश के सेना के विशेष बलों द्वारा हजार आतंकवादियों को मार डाला है।

हैदर अल इबादी, इराकी प्रधानमंत्री ने वादा किया है, मोसुल, इराक का दूसरा सबसे बड़ा शहर इस साल के अंत तक पूरी तरह से मुक्त हो जाएगा।

3550898

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: