IQNA

भारत में ईरान के राजदूत:
16:36 - June 01, 2019
समाचार आईडी: 3473638
अंतर्राष्ट्रीय समूह- भारत में ईरानी राजदूत ने "फिलिस्तीन फॉर द जस्टिस ऑफ ग्लोबल पॉवर्स" शीर्षक के साथ Quds Day के अवसर पर आयोजित बैठक में, कहा, "फिलिस्तीन का विषय इस्लाम और कुरान का मुद्दा है, और जब तक रमजान का महीना है, फिलिस्तीनी लोगों का समर्थन करने के लिए मुसलमानों की आवाज उठती रहेगी।

भारत से IQNA की रिपोर्ट के अनुसार, भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।
विभिन्न भारतीय शहर पिछले 31 मई को हजारों उपवास करने वाले शिया और सुन्नी लोगों की उपस्थिति के गवाह रहे, जो तख्तियों और मंत्रोच्चार के साथ आक्रमणकारियों के खिलाफ और दुनिया के उत्पीड़ित लोगों के समर्थन में नारे लगा कर, कब्जे वाले फिलिस्तीनी क्षेत्रों, विशेष रूप से बैतुल मुक़द्दस को रिहा करने की मांग की।
भारतीय मीडिया रिपोर्टों से पता चलता है कि इस देश के लोग विभिन्न प्रांतों और शहरों जैसे उत्तरप्रदेश, बंगाल, हैदराबाद, पुणे, जम्मू और कश्मीर, महाराष्ट्र, बॉम्बे, श्रीनगर, कारगिल और दिल्ली में वैश्विक अहंकार के खिलाफ़ और दुनिया के उत्पीड़ित लोगों विशेष रूप से फिलिस्तीन, गाजा और यमनी लोगों के समर्थन में रैलियां कीं और इजरायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की छवियों को जला दिया।
इसी तरह, भारतीय नागरिकों ने फिलिस्तीन का झंडा उठाकर और क़ुद्स की रक्षा का नारा लगाते हुए इज़राइल और इस्लामी जमीनों के अन्य ग़ासिबों से अपनी नफरत दिखाई। इसी संदर्भ में, भारत की राजधानी दिल्ली में, "फिलिस्तीन को वैश्विक शक्तियों के न्याय की प्रतीक्षा" नामक एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई।
भारत में ईरानी राजदूत अली चगनी ने बैठक में भाग लेने कके साथ यह कहा: कि भारत दबे-कुचले लोगों का समर्थन करने में सबसे आगे है, Qods मुद्दा एक इस्लामी और मानवीय मुद्दा है जिसका दुनिया के देशों, विशेष रूप से इस्लामी राष्ट्रों द्वारा दृढ़ता से समर्थन किया जाना चाहिए, क्योंकि ज़ायनिज़्म शासन हमेशा कोशिश करता रहा है कि फिलिस्तीन का मुद्दा भूला दिया जाऐ।
उन्होंने पीड़ित फिलिस्तीनी लोगों के समर्थन पर जोर देते हुए कहा: "फिलिस्तीन का विषय इस्लाम, कुरान, रमजान और मानव अधिकारों का मुद्दा है, जिसे आसानी से नहीं भुलाया जा सकता; इमाम ख़ुमैनी (र) ने फिलिस्तीनी मुद्दे को रमजान से जोड़ा, और जब तक  यह महीना, उपवास, शबे क़द्र और जुमअतुल विदाअ  मौजूद है, फिलिस्तीन के लोगों का समर्थन करने के लिए मुसलमानों की आवाज भी उठती रहेगी, और आज, हक़ शिनास व इस देश के मुस्लिम लोग क़ुद्स दिवस पर मार्च में इबादत के लिए भाग ले रहे हैं।
इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में, मुस्लिम पॉलिटिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के प्रमुख तस्लीम रहमानी, मोहसिन तक़वी, दिल्ली की शिया जामे मस्जिद के इमाम जुमा, भारत के इस्लामिक जमात के सचिव इन्तेज़ार नईम और भारतीय मुस्लिम एलायंस के चेयरमैन यूनुस सिद्दीकी ने भाग लिया और मुसलमानों के बीच एकता पर जोर देने तथा वैश्विक अहंकार से घृणा व्यक्त करते हुऐ Qods दिवस समारोह में भाग लेने को धार्मिक ज़िम्मदारी बताया।
3816202

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

भारत के मुस्लिम लोगों ने रमजान के आखिरी शुक्रवार को इस देश के कोने कोने में विश्व व्यापी क़ुद्स दिवस समारोह आयोजित करके दुनिया के अहंकारों, ग़ासिबों और उत्पीड़न के खिलाफ मार्च किया।

 

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :