IQNA

15:33 - February 25, 2020
समाचार आईडी: 3474488
तेहरान (IQNA) कोरोनोवायरस के प्रसार का मुकाबला करने के लिए सिंगापुर की मस्जिदों और चर्चों ने एहतियाती कदम उठाए हैं और मस्जिदों में नमाज़ अदा करने वालों को हाथ मिलाने से मना किया है।
अल-हुर्रा समाचार एजेंसी के अनुसार बताया कि सिंगापुर के इस्लामिक मामलों के मंत्री मसागोस ज़ुल्किफ़ली ने नमाज़ीयों से आग्रह किया है कि वे कोरोना वायरस के प्रसार को कम करने के लिए मस्जिदों में जाने के दौरान लोग़ों से मिने से परहेज़ करें।
उन्होंने कहा: "इन कृत्यों से उपासक भी धार्मिक कार्य कर सकते हैं।" यह कोरोना वायरस के खिलाफ उनकी रक्षा करता है।
जुल्फिल ने इशारा किया कि ये वो कार्यक्रम हैं जो सिंगापुर के मुफ्ती हैं, जो देश में सर्वोच्च इस्लामी प्राधिकरण है,यह धार्मिक मार्गदर्शन के चार्टर में उल्लिखित है, जिसे सिंगापुर की इस्लामिक धार्मिक परिषद ने समर्थन किया है।
सिंगापुर की ग्रेस असेंबली ऑफ गॉड ने अपने दो कर्मचारियों को कोरोना होने के बाद दो सप्ताह के लिए अपनी सभी गतिविधियों और सेवाओं को बंद कर दिया।
सिंगापुर की ग्रेस असेंबली ऑफ़ गॉड ने कोरोना में अपने दो कर्मचारियों के आने के बाद दो सप्ताह के लिए अपनी सभी गतिविधियों और सेवाओं को बंद कर दिया।
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को "पहला मानव दुश्मन" कहा है और अन्य देशों से वायरस का मुकाबला करने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने का आह्वान किया है।
3881253
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :