IQNA

15:19 - August 01, 2020
समाचार आईडी: 3475009
तेहरान (IQNA) अयोध्या शहर में बाबरी मस्जिद के स्थल पर हिंदू मंदिर के निर्माण की पूर्व संध्या पर, संभावित झड़पों से निपटने के लिए भारतीय पुलिस हाई अलर्ट पर है।

रूसया अलयौम के अनुसार; भारतीय अधिकारियों ने पुलिस को आदेश दिया है कि वे अयोध्या शहर के उत्तर में बाबरी मस्जिद के आसपास अपनी उपस्थिति बढ़ाएँ, जहाँ हिंदुओं का मंदिर निर्माण कार्य अगले हफ्ते से शुरू होना है, दशकों से हिंदुओं ने इस स्थल पर स्वामित्व का दावा किया है।
 
पिछले साल, भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला सुनाया कि हिंदू, जो मानते हैं कि भगवान राम का जन्म स्थान है, उन्हें बाबरी मस्जिद की जगह मंदिर बनाने की अनुमति है।
 
हिंदुओं का कहना है कि यह स्थान उनके लिए पवित्र है क्योंकि यह 1528 ईस्वी में भारत के मंगोल राजाओं द्वारा मस्जिद के निर्माण से बहुत पहले से उन से संबंद्धित था। भारतीय अदालत ने फैसला दिया है कि मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बजाय मस्जिद बनाने के लिए एक और भूखंड दिया जाएगा।
भारतीय अधिकारियों ने घोषणा की है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 5 अगस्त को मंदिर में निर्माण शुरू करने के लिए शीला नियास के लिऐ आमंत्रित किया गया है; मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी बाबरी मस्जिद के स्थल पर मंदिर बनाने के लिए तीन दशकों से अधिक समय से काम कर रही है।
 
पिछले साल अदालत द्वारा फैसला सुनाए जाने के बाद से तनाव में कमी आई है, और भारत के लगभग 12 प्रतिशत आबादी वाले अधिकांश मुसलमानों ने इस फ़ैसले को स्वीकार कर लिया है।
 
अयोध्या में एक इस्लामिक धार्मिक संस्था के सदस्य शकीब नूर ने कहाः हमने हिंदू मंदिर बनाने के फैसले को स्वीकार कर लिया है और तनाव पैदा करने का कोई कारण नहीं है ।
 
हालांकि, अयोध्या के अधिकारियों ने पुलिस को आदेश दिए हैं कि सड़क पर गश्त लगाऐं और और अगले सप्ताह के समारोह में बड़ी भीड़ को रोकने के लिए अवरोध प्रदान करें।
 3913805

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: