IQNA

कीलों के बिना एक संरचना;

तुर्की में एंटी भूकंप मस्जिद + वीडियो

14:53 - December 14, 2021
समाचार आईडी: 3476813
तेहरान(IQNA)तुर्की के सैमसून प्रांत में एक लकड़ी की मस्जिद की विशेष वास्तुकला ने, जो आठ सौ साल पुरानी है और कीलों से नहीं बनी है, आगंतुकों का ध्यान आकर्षित किया है।

अनातोली के अनुसार, उत्तरी तुर्की में 800 साल पुरानी लकड़ी की मस्जिद साबित करती है कि अच्छी कला और कौशल ज़माने की कसौटी पर खरे उतर सकते हैं।
गोजली मस्जिद (तुर्की: गोसेली) 1206 ईस्वी में कील, शिकंजा या गोंद के उपयोग के बिना सैमसन प्रांत के चहारशंबा क्षेत्र में बनाया गई थी।
हैरानी की बात है कि यह इमारत, जो तुर्की की सबसे पुरानी लकड़ी की मस्जिद है, अभी भी सक्रिय है और 300 उपासकों के लिए पूजा स्थल के रूप में दिन में पांच बार उपयोग की जाती है।
इस मस्जिद की दीवारें, जो अनातोलियन वास्तुकला का मजबूत उदाहरण हैं, इस तरह से बनाई गई हैं कि भूकंप संभावित तुर्की में आठ शताब्दियों के बाद भी इसे क्षतिग्रस्त नहीं किया जा सका।
इस मस्जिद के निर्माताओं ने एक मीटर से अधिक व्यास वाले ओक की लकड़ी का इस्तेमाल किया और उन्हें बोर्डों और स्तंभों में काट दिया। लकड़ी के तख्तों को आपस में जुड़ी हुई आकृतियों के कारण इस मस्जिद की बिना कील वाली संरचना बची हुई है।
इमारत की लचीली छत भूकंप से इसकी संरचना की रक्षा करती है और संरचना को ढहने के बजाय हिलने देती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर तेज भूकंप के कारण मस्जिद ढह जाती है, तो स्तंभों का कोण ऐसा होता है कि यह संरचना को मक्का की दिशा में गिरने का कारण बनता है।
4020103
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
captcha