IQNA

7:26 - March 06, 2011
समाचार आईडी: 2090690
अंतरराष्ट्रीय समूह:सऊदी अरबअहसा व क़तीफ़ शहरों के 100 से अधिक शिया उलमा ने Hojjatoleslam "तौफ़ीक़ आमेर"शहर अहसा के ख़तीबे जुमा, के साथ एकजुटता अथवा उनकी जल्दी रिहाई की मांग की है.
ईरानी कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) Rasd समाचार नेटवर्क के हवाले से, सऊदी अरब अहसा व क़तीफ़ शहरों के सैकड़ों शिया मौलवियों ने कल 4 मार्च को दो अलग बयान जारी करके,सऊदी सुरक्षा बलों से शेख आमेर और अन्य कैदियों की तत्काल रिहाई की जो अक़ीदे इज़्हार व अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की वजह से हिरासत में हैं का अनुरोध किया है.
अहसा व क़तीफ़ शहरों के शिया मौलवियों ने 'इन दोनों बयानों में घोषणा की: रचनात्मक आलोचना और प्रबुद्ध विचार शांतिपूर्ण और सभ्य चरण में ऐक क़दम है जो देश की सुरक्षा और स्थिरता को प्रभावित नही करते हैं.
इन दोनों बयानों में हैं:प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी और मुकदमा चलाना जो वर्तमान में सुधार की मांग कर रहे हैं, ऐसा मुद्दा जो भय और बदला लेने पर ख़त्म होगा और प्रदर्शनकारियों की उचित मांगों की अनदेखी करना भी मिल्लतों की चिंताओं और संदेह को पैदा करता है.
सऊदी शिया मौलवियों ने इसी तरह कार्यकारी अधिकारियों से भी आग्रह किया कि सभी संधियों और अंतर्राष्ट्रीय कानूनों जोकि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और अधिकारों की मांग को वैध ठहराते हैं का पालन किया जाना चाहिऐ.
सबसे प्रमुख शख़्सियतें जिन्हों ने इन दोनों बयान पर हस्ताक्षर किए हैं सै. अली Alnaser, सै. मोहम्मद अली अल आली, शेख हसन बूख़म्सीन, शेख हुसैन Alaysh, सै.hashm Alshkhs, Seyyed हसन Alnamr, शेख सादिक Aljbran,और शेख अली Baqir Almusa जैसे लोग हैं.
757901
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :