IQNA

5:42 - October 13, 2012
समाचार आईडी: 2430038
अंतरराष्ट्रीय विभाग:ऐक यमनी नागरिक ने साबुल उबूर गुफाओं में कुरान की सबसे पुरानी जीवित पांडुलिपि के पाऐ जाने की खबर दी.
ईरानी कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) वेबसाइट hournews के अनुसार,यह कुरान की प्रति 200 हिज्री साल से संबंधित है जो यमन में "अदन" राज्य के शहर "ज़ाले" के युवक द्वारा देश की अगम्य चट्टानी गुफाओं में खोज निकाला गया है.
कुरान के इस संस्करण के पहले पेज पर जिसके अक्षर पर ज़बर ज़ेर नहीं है, आया है: "यह कुरान वर्ष 200 हिज्री में भगवान की ख़ुशी के लिए लिखा गया है".
इस कुरान के निकट ऐक तांबा की तलवार भी जिस पर अरबी में "जुल्फिकार" उस पर खुदा है पाई गई है, वह तलवार, जो ऐतिहासिक narratives के अनुसार इमाम अली (अ.स) की है जो पैगंबर मुहम्मद (PBUH) द्वारा दी गई थी.
यमन में किए गए शोध के अनुसार, खोज किया गया कुरान सबसे पुरानी कुरान की पांडुलिपि है, जबकि रूसियों का मानना है कि उस्मानी कुरान के "(3 खलीफा से संबंधित) जो कि एक उजबेकिस्तानी संग्रहालयों में सुरक्षित है, दुनिया का सबसे पुराना कुरानी संस्करण है.
1117449
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: