IQNA

12:11 - September 16, 2020
समाचार आईडी: 3475148
तेहरान (IQNA) क़तरी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा कि ज़ायोनी शासन के साथ संबंध सामान्य करना, इस शासन के साथ फ़िलिस्तीनियों के संघर्ष का समाधान नहीं हो सकता है।

अल-जज़ीरा के अनुसार, "लूलु अल-ख़ेरह", क़तरी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने, ब्लूमबर्ग न्यूज के साथ एक साक्षात्कार में, कहा कि क़तर उन देशों के समूह में शामिल नहीं होगा जो ज़ायोनी शासन के साथ अपने संबंधों को सामान्य कर रहे हैं।
 
उन्होंने कहाः हम यह नहीं सोचते हैं कि इस शासन के साथ संबंधों का विच्छेद फिलिस्तीनी मुद्दे का मुख्य कारण है, और इसलिए संबंधों का सामान्यीकरण भी समाधान नहीं हो सकता है।
 
क़तरी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा: इस संकट का मुख्य मुद्दा फिलिस्तीनियों की मुश्किल स्थिति है। वे एक ऐसे मानव में बदल गए हैं जो देश के बिना रहने वालों और ग़ासिबों के उत्पीड़न के तहत हैं।
 
फारस की खाड़ी क्षेत्र में संकट के बारे में, अल-ख़ातेरह ने कहा: क़तर पिछले तीन वर्षों में ईरान के साथ अपने सौहार्दपूर्ण संबंधों के कारण सऊदी अरब, यूएई, मिस्र और बहरीन द्वारा राजनयिक और व्यापार घेराबंदी का लक्ष्य रहा है। आने वाले हफ्तों में इस मामले में कुछ नया हो सकता है।
3923206
 
 
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :
* captcha: